नईदिल्ली : एससी-एसटी ऐक्ट के लिए हो रहे प्रदर्शन में जंतर-मंतर पहुंचे राहुल

नई दिल्ली : एससी-एसटी बिल को लेकर जंतर मंतर पर हो रहे प्रदर्शन को समर्थन देने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पहुंचे। राहुल ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार को दलित विरोधी बताते हुए कहा कि देश भर में दलितों पर अत्याचार हो रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें देश में जहां भी दलितों पर अत्याचार के खिलाफ बुलाया जाएगा, वह जाएंगे। राहुल के साथ मंच पर सीताराम येचुरी भी नजर आए.

ये खबर भी पढ़ें – नईदिल्ली : यूनेस्को से ज्यादा भारत के अधिकारियों को ताजमहल की चिंता करनी चाहिए: सुप्रीम कोर्ट

राहुल गांधी ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी की सोच और नीतियां दलितविरोधी हैं। जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने किताब लिखी थी कि दलितों को सफाई करने में आनंद आता है। पीएम मोदी की यही सोच है। अगर वह दलितों का दुख समझते तो उनकी सरकार की नीतियां कुछ और होती.

ये खबर भी पढ़ें – नईदिल्ली : 12 साल से छोटी बच्चियों से रेप पर सजा-ए-मौत

कांग्रेस अध्यक्ष ने दलित संगठनों से संघर्ष का आह्वान करते हुए कहा, हम सबको एकजुट होकर बीजेपी और आरएसएस की मानसिकता को हराना है। उनकी सोच नफरत की है और कांग्रेस पार्टी प्यार से सबको साथ लेकर चलना जानती है। 2019 में मोदी सरकार का हारना तय है और उन्हें हम सबको मिलकर हराना होगा। आप देश में कहीं भी आंदोलन करेंगे तो हम आपके साथ हैं। मैं आपके लिए हमेशा खड़ा रहूंगा.

राहुल गांधी ने एससी-एसटी ऐक्ट को कमजोर करने के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि जिस जज ने एससी-एसटी ऐक्ट में बदलाव कर इसे कमजोर किया, उसे मोदी सरकार ने बड़ा पद देने का काम किया है। राहुल ने कहा, नरेंद्र मोदी की सोच है कि भारत के भविष्य में दलितों की कोई जगह नहीं होनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *