कोविड-19 के कारण अनाथ व बेसहारा हुए बच्चों को महिला एवं बाल विकास विभाग में मिलेगा आश्रय

कवर्धा

कोविड-19 संक्रमण से अनाथ बेसहारा हुए बच्चो अथवा जिनके माता-पिता कोविड-19 से संक्रमित हो या अस्पताल में हो और बच्चों का देखरेख करने में असमर्थ हो जिन्हे आश्रय की आवश्यकता हो या उन्हें अस्थाई की अवश्यकता है उनकों बाल कल्याण समिति में प्रस्तुत कर समिति के निर्णय अनुसार अवधि के लिए बाल देखरेख संस्था में आश्रय देकर उचित संरक्षण प्रदान किया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें –रायपुर में डॉक्टरों की लापरवाही, बेहोश महिला को मृत बताया, चिता पर लिटाया


कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण से प्रभावित बच्चों एवं पालक, अभिभावक जिन्हें परामर्श की आवश्यकता है वो किशोर न्याय (बालकों की देखरेख एवं संरक्षण) अधिनियम 2015 के धारा 27 के तहत गठित प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्याय पीठ के रूप में स्थापित बाल कल्याण समिति जिला कबीरधाम के समक्ष प्रस्तुत कर आश्रय दिया जाएगा।

बाल कल्याण समिति का कार्यालय बाल गृह परिसर जोराताल में संचालित है। ऐसे बच्चे प्राप्त होने पर तत्काल अंजना तिवारी अध्यक्ष बाल कल्याण समिति मो. 9752240991, राजेन्द्र कुमार बारले 7067050683, विश्वनाथ साहू सदस्य बाल कल्याण समिति, विष्णु सिंह चंद्रवंशी सदस्य मो. 7898471415, इरसाद बेगम मो.8819913030 एवं टोल फ्री चाईल्ड हेल्प लाईन नंबर 1098 (दस नौ आठ) पर सूचित कर सकते है। जिससे बेसहारा जरूरतमंद बच्चों को आश्रय मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button