छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

पति बीजेपी के दिग्गज नेता,अब पत्नी भी करेंगी राजनीती में एंट्री ?

नमस्कार दोस्तों, फोर्थ आई न्यूज़ में आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है। दोस्तों हमने आप तब हमारे प्रदेश के कई बड़े नेताओं से जुड़े किस्से और उनकी जीवनी साझा की है आप इनके बारे में बहुत कुछ जानते भी हैं मगर इन नेताओं के परिवारवालों को लेकर बहुत कम जानकारी लोगों को पता होती है। आज हम आपको हमारे प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह के बारे में बताने जा रहे हैं। कहा जाता है कि एक सफल व्यक्ति के पीछे किसी औरत का हाथ होता है और यह बात डॉ रमन सिंह पर काफी सटीक बैठती है। वीणा सिंह रमन सिंह की पत्नी के रूप में ना सिर्फ उनकी जीवनसाथी हैं बल्कि अपने पति के राजनितिक करियर की सफलता के लिए भी श्रेय की हक़दार हैं।

वीणा सिंह का जन्म मध्य प्रदेश के रीवा जिले में सन 1958 को कांग्रेस समर्थकों के परिवार में हुआ था। वीणा सिंह धर्म से राजपूत हैं। उन्हें बचपन से ही खाना बनाने और किताबें पढ़ने का बहुत शौक रहा है। उनके पिता जाने-माने कांग्रेसी थे। वयोवृद्ध कांग्रेसी स्वर्गीय अर्जुन सिंह वीणा को अपनी बेटी मानते थे। महज़ 21 साल की उम्र में वीणा सिंह की शादी रमन सिंह से हुई रमन सिंह उस समय बीजेपी से जुड़े हुए थे लेकिन कोई ख़ास पहचान नहीं बना पाए थे, जैसे-जैसे रमन सिंह का राजनितिक करियर आगे बढ़ा वैसे-वैसे उनके परिवार द्वारा वीणा सिंह को चुनावों के दौरान राजनीती में आने का आग्रह किया गया मगर वीना सिंह मध्य प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में अपनी पार्टी के लिए प्रचार करके अपने पति का समर्थन करती ही नज़र आईं, कभी पार्टी से जुड़कर सक्रिय राजनेता नहीं बनीं।

डॉ रमन सिंह और वीणा सिंह की दो संतानें हैं। बेटा अभिषेक सिंह जो अपने पिता की तरह ही राजनीती में है और पेशे से इंजीनियर तो वहीं बेटी अस्मिता सिंह जो पेशे से एक डेंटल सर्जन हैं। वीणा सिंह भले ही बीजेपी नेता डॉ रमन सिंह की पत्नी हैं, लेकिन जैसा की हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि उनके पिता और दादा कोंग्रेसी थे लिहाज़ा वीना सिंह के मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, छग विधानसभा के अध्यक्ष चरण दास महंत और प्रदेश के पूर्व सीएम अजीत जोगी जैसे कई कांग्रेसियों के साथ अच्छे संबंध रहे हैं। इनमें से अजित जोगी हलाकि बाद में कांग्रेस से अलग हो गए थे लेकिन उनके सम्बन्ध बरक़रार थे।

वीना सिंह बहुत ही शांत और गंभीर महिला हैं, वो अपने पति डॉ रमन सिंह के ठीक उलट मीडिया और लाइमलाइट में रहना कम पसंद करतीं हैं। डॉ. रमन सिंह पत्नी वीणा सिंह को अपनी सबसे बड़ी ताकत मानते हैं। एक सन्दर्भ यह भी बहुत प्रसिद्द है कि जब डॉ रमन सिंह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री थे तब जब वे गर्मियों के दिनों में लोक सुराज अभियान के तहत दौरे पर जाते है तब वीणा सिंह उनके लिए टिफिन तैयार करती थीं। वीणा ने एक बार बताया था कि सभी से एक समान व्यवहार करना उनकी सबसे बड़ी खूबी है। वे कहती हैं, रमन सिंह की सेहत का ख्याल रखना मेरी जिम्मेदारी है। वे खासतौर पर टिफिन में हरी सब्जियों के साथ रोटी के अलावा मट्ठा, आम का पना और बेल का शरबत रखना नहीं भूलतीं थीं।

वीणा सिंह कभी राजनीती में आएंगी या नहीं कुछ कहा नहीं जा सकता लेकिन माना जाता है कि वो राजनीति के दांव-[पेंच से बखूबी वाकिफ हैं और इसी वजह से रमन सिंह जब मुख्यमंत्री थे तब भी कई गंभीर विषयों पर वो अपनी पत्नी से परामर्श लेते थे, दोस्तों क्या आपको लगता है कि वीणा सिंह को भी अपने पति रमन सिंह की तरह सक्रिय राजनीती में होना चाहिए था ? बने रहिए फोर्थ आई न्यूज़ के साथ, नमस्कार।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button