छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंरायपुर

अब भानुप्रतापपुर में मंडावी V/S नेताम, जेसीसीजे और आम आदमी पार्टी मैदान से नदारद !

भानुप्रतापपुर

भानूप्रतापपुर विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने मंगलवार को अपने प्रत्याशी का ऐलान किया था पार्टी ने इसी सीट से पूर्व विधायक ब्रह्मानंद नेताम को टिकट दिया है जिनकी पकड़ इस क्षेत्र में काफी मजबूत मानी जाती है फोर्थ आई न्यूज़ ने आपको उनका संक्षिप्त जीवन परिचय भी दिया था जिसे आप ऊपर आई बटन क्लिक करके देख सकते हैं नेताम के ऐलान के बाद सबकी निगाहें कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी पर थी क्योंकि पहले माना जा रहा था की दिवंगत विधायक और विधान सभा उपाध्यक्ष रहे मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी कांग्रेस की तरफ से एकमात्र उम्मीदवार होंगे लेकिन बीते सप्ताह चुनाव समिति की बैठक में कुल 13 दावेदारों के नाम सामने आए थे इसके बाद इस स्क्रूटनी हुई और आलाकमान को जिन नामों का पैनल भेजा गया था उनमें विरेश ठाकुर और सावित्री मंडावी का नाम प्रमुखता से आगे था अब एआइसीसी ने सावित्री मंडावी को ही भानूपतापपुर विधानसभा उपचुनाव में बतौर कांग्रेस प्रत्याशी उतारने की घोषणा कर दी है सावित्री की पत्नी है ।

आपको बता दें कि भानुप्रतापपुर विधायक और विधानसभा उपाध्यक्ष रहे मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी रायपुर के कटोरा तालाब स्थित सरकारी स्कूल में व्याख्याता के पद पर थीं। पति के निधन और उपचुनाव की डेट घोषित होने के बाद उन्होंने सरकारी नौकरी छोड़ दी थी। रायपुर में चुनाव समिति की बैठक में सावित्री मंडावी और बिरेश ठाकुर का नाम पर सहमति बनी थी। इसके बाद से ही माना जा रहा था कि इस सीट पर कांग्रेस सावित्री मंडावी को उतारेगी।

कांकेर जिले की भानुप्रतापपुरा विधानसभा सीट विधायक मनोज मंडावी के निधन के बाद खाली हुई है। मनोज मंडावी छत्तीसगढ़ कांग्रेस के सीनियर लीडर थे। सावित्री मंडावी उनकी पत्नी हैं। माना जा रहा है कि सहानुभूति फैक्टर को देखते हुए उनके नाम पर फाइनल मुहर लगेगी।

एक बार का चुनाव कांग्रेस वर्सेस भाजपा ही होगा इसके अलावा बाकी दल जैसे आम आदमी पार्टी ने तो अपने प्रत्याशी को इस बार चुनाव में उतारा ही नहीं है 2018 की बात करें तो जैसी सीने विच यूनिट से चुनाव लड़ा था अपने प्रत्याशी को उतारा था लेकिन इस बार उसने भी उपचुनाव के मद्देनजर अपने हाथ खींच लिए हैं दोनों ही पार्टियां दावा कर रही है कि 2023 में पूरे दमखम के साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे कांग्रेस और भाजपा में ही स्थित कांटे की टक्कर देखने को मिलेगी।

भानुप्रतापपुर विधानसभा उप चुनाव के लिए अधिसूचना 10 नवंबर को जारी हुई। 17 नवंबर को नामांकन की अंतिम तिथि होगी। पांच दिसंबर को मतगणना होगी और आठ दिसंबर को परिणाम घोषित किए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button