रायपुर : क्या स्ट्रांग रूम में अनाधिकृत प्रवेश को भाजपा का है मौन समर्थन : भूपेश बघेल

रायपुर : पीसीसी प्रमुख ने कहा है कि स्ट्रांग रूम में बार-बार अनाधिकृत रूप से प्रवेश करने की घटना सामने आने के बाद भी भाजपा मौन क्यों हो, किसी भी कंपनी को कानून हाथ में लेने का अधिकार आखिर किसने दिया?कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पीसीसी प्रमुख श्री बघेल ने कहिा कि स्ट्रांग रूम में बिना अनुमति लगातार अनाधिकृत रूप से प्रवेश करने की घटनाएं प्रकाश में आ रही है, इसके बाद भी भाजपा मौन सासधे हुए है। उन्होंने जगदलपुर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि जगदलपुर में स्ट्रांग रूम में इलेक्ट्रानिक डिवाइस लेकर तीन लोग प्रवेश करते हैं। इसके बाद कलेक्टर का बायान आता है कि वो जियो कंपनी के कर्मचारी थे और वे टॉवर सुधारने के लिए गए थे।

ये खबर भी पढ़ें – रायपुर : पद्मश्री श्यामलाल चतुर्वेदी के निधन पर कांग्रेस नेता ने जताया शोक

क्या किसी कंपनी को स्ट्रांग रूम में प्रवेश करने की अनुमति है, तीन कर्मचारियों में से एक भाग निकलता है और दो पकड़े जाते हैं। इन घटनाओं पर भाजपा चुप्पी साधे हुए है, क्या इन सभी कामों के लिए भाजपा का मौन समर्थन है? श्री बघेल ने कहा कि निर्वाचन आयोग को तत्काल इस संबंध में संज्ञान लेना चाहिए, जिलाधीश के साथ ही पुलिस अधीक्षक को तलब कर उनसे पूछताछ होनी चाहिए। श्री बघेल ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा जान चुकी है कि 11 दिसंबर को जनादेश किस तरह से आने वाली है, इसीलिए वो लगातार जोड़तोड़ का प्रयास कर रही है।

ये खबर भी पढ़ें – रायपुर : कांग्रेस मुक्त छत्तीसगढ़ 11 को होगा : भाजपा

उन्होंने कहा कि कुछ गिने-चुने अधिकारी लगातार भाजपा को लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं, उन्हें संविधान के तहत दंडित होना पड़ेगा। एक सवाल के जवाब में श्री बघेल ने कहा कि श्री जोगी को एक बार सीएम बनाकर भुगत चुके हैं, अब आगे इस तरह की गलती नहीं दोहरानी है। यह बयान उस मायने में भी देखा जा रहा है, जिसमें अमित जोगी ने कहा है कि अजीत जोगी को सीएम बनाने वाले दल का वे समर्थन करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *