रायपुर : यहां थाने गए बिना भी दर्ज हो जाती है शिकायत और होता है समाधान

 रायपुर : छत्तीसगढ़ के दुर्ग रेंज के पुलिस महानिरीक्षक जी.पी. सिंह के मार्गदर्शन में शुरु हुआ सिटीजनकॉप मोबाईल एप्लीकेशन सिस्टम आमजनता के लिए वरदान साबित हो रहा है। इस सिस्टम से आमजनता सीधे अपनी शिकायत पुलिस थाने में कर सकता है और उस पर हो रही कार्रवाई पर जानकारी अर्जित कर सकता है। इस कार्य के लिए उन्हें थाने का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। यह कार्य प्रदेश के हर संभाग में लागू हो गया है। जो भी व्यक्ति मोबाईल की संक्षिप्त जानकारी रखता है, वह इस सिस्टम से यह सेवा प्राप्त कर सकता है। वर्तमान में सिटीजनकॉप मोबाईल एप्लीकेशन 1 लाख 24 हजार 8 सौ 70 लोगों ने डाउनलोड कर लिया है।

मोबाईल एप्लीकेशन सिस्टम आमजनता के लिए वरदान ?

विगत 27 जुलाई 2018 के रिकार्ड अनुसार 91 हजार 16 लोगों ने इस सिस्टम का सदुपयोग किया है। इस सिस्टम के माध्यम से 11 हजार 4 सौ 89 शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिसमें से 4 हजार 5 सौ 99 शिकायतों पर लोगों को त्वश्ति लाभ मिला है। इसी तरह 2 हजार 5 सौ 26 शिकायतों पर कार्रवाई जारी है। जबकि 4 हजार 3 सौ 64 सूचनाएं सुझाव के रूप में प्राप्त हुई हैं। इस सिस्टम में दस्तावेज एवं वस्तुओं के गुम अथवा चोरी हो जाने की 4 हजार 9 सौ 20 शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिन्हें पुलिस प्रशासन की ओर से ऑटो-जनरेटेड पावती ई-मेल के माध्यम से शिकायतकर्ता को प्रेषित की गई है। इसके अतिरिक्त ‘हेल्प मी’ जैसे आग्रह भरी 3 हजार 258 सूचनाएं मिली हैं, जिस पर यथोचित कार्रवाई की जा रही है।

2 हजार 5 सौ 26 शिकायतों पर कार्रवाई जारी ?

वहीं पुलिस द्वारा क्रेन से अव्यवस्थित ढंग से खड़े किए गए वाहनों को उठाए जाने की ऑनलाईन जानकारी दी गई है। जिसकी संख्या 8 हजार 5 सौ 49 है। इस सिस्टम के विषय में पुलिस महानरीक्षक जी.पी.सिंह का मानना है कि जनसुरक्षा व प्रभावी पुलिसिंग के लिए सक्रिय जनथागीदारी होना आवश्यक है। रायपुर रेंज के अधीनस्थ आने वाले 5 जिलों रायपुर, धमतरी, महासमुन्द, बलौदाबाजार एवं गरियाबन्द में सिटीजनकॉप मोबाईल एप्प लांच की गई है। इसके सकारात्मक परिणाम को देखते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह ने पूरे प्रदेश में लागू करने का निर्देश दिया है। महिलाओं, बच्चों एवं कमजोर वर्ग से जुड़े व्यक्तियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में यह मोबाईल एप्प उपयोगी सिद्ध हो रहा है।

ये खबर भी पढ़ें – गरियाबंद : घर पर सो रहे अधेड़ व्यक्ति पर तेंदूआ ने किया हमला, घायल

सिटीजनकॉप की मदद से कोई भी आम नागरिक बिना अपनी पहचान निरुपित किए गैरकानूनी कार्यों अपराधों एवं घटना-दुर्घटना की जानकारी पुलिस को दे सकते हैं। आपात स्थिति में पुलिस की सहायता भी त्वरित प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें थाने या पुलिस अधिकारी तक जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। सिर्फ एक बटन दबाकर आम आदमी जनसुरक्षा में अपनी भागीदारी निभा सकता है। इस मोबाईल एप्लीकेशन द्वारा रिपोर्र्ट एन इंसीडेंट फीचर, कॉल पुलिस, कॉल एडमिनिस्ट्रेशन, माई सेफजाने फीचर, एसओएस हेल्प मी, ट्रेवल सेफ फीचर, रिपोर्ट लॉस्ट आर्टिकल फीचर, नियर बाई प्लेसेस फीचर, माई क्लोजग्रुप फीचर, टोविंग वेहिकल सर्च, वेरिफिकेशन इन्फार्म पुलिस फीचर, ट्रैक माई लोकेशन फीचर, फेयर कौलकुलेशन फीचर, योअर रिपोटर््सफीचर तथा रिपोटर्स लुकअप फीचर्स के माध्यम से आम नागरिक सुविधाएं प्राप्त कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *