WHO ने बताया कि अंडा चिकन खाने से आप भी Bird Flu का शिकार हो सकते हैं या नहीं

तेजी से फैल रहे इस फीवर को एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस (H5N1) के नाम से जाता है लेकिन सरल भाषा में इसे बर्ड फ्लू कहते हैं । दुनिया को कोरोना वायरस महामारी से अभी राहत मिली नहीं थी कि कोविड-19 के नए स्ट्रेन के मामले भी बढ़ रहे हैं । इसी बीच खबर है कि अब देश में तेजी से बर्ड फ्लू भी फैल रहा है । इसको लेकर हमारे देश के अलग राज्यों को अलर्ट कर दिया गया है और इसकी रोकथाम की तैयारियां की जा रही हैं ।

अब सबके मन में सवाल है कि क्या ऐसे हालातों में मांस और अंडे का सेवन घातक है तो हम आपको बताते हैं कि इस बारे में WHO क्या कहता है ?

आम तौर पर बर्ड फ्लू का खतरा इंसानों को उतना नहीं है जितना कि पक्षियों को होता है । लेकिन कोई भी व्यक्ति तब बर्ड फ्लू के संक्रमण का शिकार हो सकता है जब वह किसी संक्रमित पक्षी या जानवर से करीबी संपर्क बनाता है । इसके साथ ही अगर चिकन या अंडा ठीक से पका कर नहीं खाया जाता तब बर्ड फ्लू का खतरा अधिक होता है ।

इस वायरस को लेकर 2005 में WHO ने सलाह दी थी कि चिकन, मीट, अंडा अच्छी तरह पका कर खाया जाता है तो इससे खतरा नहीं हैं । WHO के मुताबिक कम से कम 70 डिग्री सेल्सियस तापमान में अंडा या चिकन पकाया जाना चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button